Home » शमशान जाने पर आपको कैसा महसूस होता है | जानें GK In Hindi

शमशान जाने पर आपको कैसा महसूस होता है | जानें GK In Hindi

Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

शमशान जाने पर आपको कैसा महसूस होता है | जानें GK In Hindi General Knowledge : यदि आप किसी भी मनुष्य को शमशान में जाने का बोलते हो तो उसके मन विचारो में बदलाव आ जाता है ! और वो मनुष्य के मन में गलत विचार आने लग जाते है ऐसा क्यों होता है आईए हम जानते है इसके बारे में, कुछ लोगो के लिए शमशान शांति और मन को स्थिर करने का स्थान हो सकता है ! लेकिन दूसरे इसे दुःख संकट और गलत विचार के लिए मानते है जैसा की आप जानते हो महिलाओ को शमशान में जाना वर्जित क्यों है ! आईए जानते है इसके बारे में। आप लोगो ने अक्सर देखा होगा की अपने परिवार के सदस्य की अंतिम यात्रा में सभी पुरुष जाते है ! लेकिन महिलाओ को क्यों वर्जित रहता है यह जाना !

शमशान जाने पर आपको कैसा महसूस होता है | GK In Hindi

शमशान जाने पर आपको कैसा महसूस होता है
शमशान जाने पर आपको कैसा महसूस होता है

तो आपको बता दे की अपने हिन्दू धर्म में 16 सँस्कार होते है ! हिन्दुओ में मृत के पश्चात अंतिम यात्रा निकली जाती है जिसमे परिवार के सभी पुरुष शामिल रहते है ! लेकिन हिन्दू रिवाज के मुताबिक महिलाओ को शमशान तक जाना सख्त मना होता है। बहुत कम लोगो को पता होगा की महिलाओ को अंतिम संस्कार में क्यों शामिल नहीं किया जाता है !ऐसा क्या होता है वहा आईए जानते है, इसके पीछे भी कुछ कारण है जो आपको अपने लेख में बताएंगे !

होती है शमशान में नकारात्मक ऊर्जा General Knowledge

ऐसा माना जाता है की शमशान में नकारात्मक ऊर्जा फैली होती है जिससे महिलाओ को वहा जाना वर्जित होता है ! क्युकी महिलाए कोमल ह्रदय की मानी जाती है। जिससे वो नकारात्मक ऊर्जा उनके शरीर में जल्दी प्रवेश कर लेती है ! और उनके शरीर में कई बीमारी फैलने की संभावना ज्यादा हो जाती है ! महिलाएँ बहुत कमजोर मन की होती है, जिससे वो ये दृश्य नहीं देख सकती है ! क्युकी वो ये दृश्य देख बहुत डर जाती हे जिससे वहा प्रेत आत्मा उनके शरीर में वस कर लेती है ! जिससे उन्हें नुकसान पहुँचती है इसलिए महिलाओ का जाना शमशान में वर्जित होता है !

अंतिम संस्कार में बाल कटवाना अनिवार्य क्यों है

हिन्दू मर्यादा के अनुसार परिवार के सदस्य को बाल कटवाना जरुरी होता है क्यों की ये हिन्दू धर्म की मर्यादा रहती है जैसा की आप जानते है परिवार में जब तक अपने सर पर पिता का साया रहता है जब तक किसी छोटे को बाल नहीं कटवाना पढता है ! और जब शव को जलाया जाता है तो वातावरण में कीटाणु फैल जाते हैं और शरीर के कोमल हिस्सों पर चिपक जाते हैं इसलिए श्मशान में बाल कटवाने के बाद स्नान किया जाता है। वहीं महिलाओं का मुंडन करना शुभ नहीं माना जाता है। और ऐसा माना जाता है की शमशान में मृत आत्मा भटकती रहती है जिससे वो आत्मा महिलाओ में प्रवेश कर लेती है ! इसलिए महिलाओ को शमशान में जाना पाबंदी होती है।

तीसरा कारण ये है कि

GK In HIndi General Knowledge महिलाए और लड़किया कमजोर दिल की होती है और अपने परिवार के किसी भी सदस्य की मृत्यु के बाद खुद का रोना नहीं रोक पति और ऐसे में शमशान जाने पर महिलाओ का रोना मतलब मृत आत्मा को शांति न मिलने का संकेत होता है जिससे वो आत्मा उनको परेशान करती है ! इसलिए महिलाओ को अंतिम संस्कार में शामिल नहीं किया जाता है ! यह रोचक जानकारी ( Interesting Facts About General knowledge ) से जुड़ा आर्टिकल है | खुद भी पढ़े दोस्तों को भी भेंजे |

बरसात के दिनों में चींटियों / कीड़ों के पंख क्यों लग जाते है | जानें GK In HIndi

About The Author

Leave a Comment