Home » बिच्छू अपनी माँ को क्यों खा जाते है | GK In Hindi

बिच्छू अपनी माँ को क्यों खा जाते है | GK In Hindi

Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

बिच्छू अपनी माँ को क्यों खा जाते है | GK In Hindi General Knowledge | हेलो दोस्तों आप भी जानते है हम जिस युग में जी रहे है उस युग को कलयुग कहते है ! अभी के युग में हमे मनुष्य जीवन मिला है हम बहुत खुशनसीब है ! इस दुनिया में हमने कई प्रकार के जीव देखे है ! बहुत से जीव जमीन पर रेंगते हुए नज़र आते है ! कई जीव तो ऐसे भी है जिन्हे हम देखते ही डर जाते है ! चिल्लाने लगते है सांप और बिच्छू यह दो ऐसे जीव है जिन्हे देखकर ही सब डरने लगते है क्यों की ये 2 जीव बहुत ही ज्यादा ज़हरीले होते है ! इसीलिए लोग इनसे ज्यादा डरते है ! आपने कई जीव जंतुओं के बारे में कई रोचक कहानियां सुनी है आज आपको बिच्छू के बारे में एक रोचक जानकारी बताई जाएगी !

बिच्छू अपनी माँ को क्यों खा जाते है | GK In Hindi

बिच्छू अपनी माँ को क्यों खा जाते है | GK In Hindi
बिच्छू अपनी माँ को क्यों खा जाते है | GK In Hindi

इस दुनिया में ऐसे कई जीव है जिन्हे देखकर मनुष्य के डर की सीमा खत्म हो जाती है ! लेकिन धरती पर कुछ ऐसे भी जीव होते है जिन्हे देखकर डर से लोग कापने लगते है ! ख़ास कर सांप और बिच्छू ये दो जीव बहुत ही जहरीले होते है ! क्यों की सांप और बिच्छू इन दोनों जीव में भारी मात्रा में जहर होता है ! लेकिन ये जीव ऐसे होते है की अगर इनको परेशान ना करे तो यह किसी को कोई भी नुकसान नहीं पहुंचाते ! यह जीव बहुत जेहरीले  होते है इसीलिए इनसे दूर ही रहे तो अच्छा है !

बिच्छू की 2000 से ज्यादा प्रजातियां होती है

आपने सांपो के बारे में तो बहुत सुना होगा आज आपको बिच्छू के बारे में दिलचस्प कहानी जिसे सुनकर आप भी सोचने लग जायेगे बिच्छु एक जमीन पर रेंगने वाला छोटा जीव होता है ! यह जितना छोटा होता है उतना जहरीला भी होता है ! बिच्छू की 2000 से भी ज्यादा प्रजातियां पाई जाती है !

माना जाता है की बिच्छू के एक बार डंक मारने से इंसान की जान भी जा सकती है ! बिच्छू के डंक से निकले हुए जहर में इतना जहर होता है की वो इंसान को लखवा ( पैरालाइज ) जैसी बीमारी का शिकार बना देता है ! आपको जानकर हैरानी होगी की बिच्छू एक ऐसा जीव है जो पैदा होते ही अपनी माँ को ही खा जाता है ! इस आर्टिकल के माध्यम से आपको इस विषय पर पूरी जानकारी दी जाएगी !

बिच्छू का शरीर केसा होता है

बिच्छू तो आपने देखा ही होगा ! बिच्छू आपको हर बार जमीन पर रेंगते हुए ही नजर आते है ! यह जीव ज्यादा तर पत्थर और ईट के निचे रहते है ! बिच्छू का शरीर देखने में तो बड़ा अजीब सा लगता है ! बिच्छू की अलग अलग देशो में भिन्न प्रजातियां पायी है ! बिच्छू का शरीर ताप्ती गर्मी से लेकर जमा देने वाली ठण्ड तक सहन कर लेता है !

ज्यादा कर बिच्छू को 18 डिग्री से 37 डिग्री के बिच का तापमान में रहना ही अच्छा लगता है ! बिच्छू ही एक मात्र एक जीव है जो जन्म के दौरान होनी माँ को ही भोजन के रूप में खा लेता है ! हमने कई जीव के बारे में सुना है ! लेकिन ऐसा किसी जीव के बारे में नहीं सुना आपको बताते है इसके पीछे का क्या राज है !

जन्म के दौरान बिच्छू अपनी माँ को क्यों खा जाते है

बिच्छू आमतौर पर अपनी भूख मिटाने के लिए कीड़ों का शिकार करते है ! लेकिन बिच्छू जिसका भी शिकार करता है उसमे अपना जहर छोड़ देता है जिससे वो इंसान लखवे का शिकार हो जाता है ! या उसकी मौत हो जाती है !

माना जाता है की मादा बिच्छू एक साथ 100 बच्चो को जन्म देती है ! मादा बिच्छू जन्म के दौरान अपने बच्चो को अपनी पीठ पर बैठा कर एक सुरक्षित जगह पर ले जाता है ! जहा किसी भी प्रकार का कोई बड़े जीव से खतरा ना हो !

माना जाता है की बिच्छू पैदा होते ही उसकी माँ की पीठ पर चिपक जाते है जैसे जैसे बच्चे बड़े होने लगते है वैसे वैसे वो मादा बिच्छू के शरीर को खाने लगते है ! बिच्छू मादा बिच्छू की पीठ को पूरी तरह खोखला कर देते है !

जब मादा बिच्छू मर जाती है तब बिच्छू उसकी पीठ से उतर कर घूमने लगते है ! मादा बिच्छू की माँ अपने बच्चो के जन्म के लिए ही खुद की क़ुरबानी देती है ! किसी ने सच ही कहा है कुछ बातों को समझ पाना हमारे बस की बात नहीं होती है !

छिपकली भगाने के घरेलू उपाय, घर में एक भी नहीं मिलेगी छिपकली | GK In Hindi

About The Author

Leave a Comment