Home » फेविकोल जिस डिब्बी में रखा होता है उसमें क्यों नहीं चिपकता | जानें GK In Hindi

फेविकोल जिस डिब्बी में रखा होता है उसमें क्यों नहीं चिपकता | जानें GK In Hindi

Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

फेविकोल जिस डिब्बी में रखा होता है उसमें क्यों नहीं चिपकता | जानें GK In Hindi General Knowledge | दोस्तों आज हम जानेंगे की फेविकोल ( Fevicol ) हर जगह क्यों चिपकता है , तो जैसा की आपको हम बता दे की फेविकोल जो है वह हर जगह बड़ी आसानी से कही भी चिपक जाता है ! परन्तु आज हम ये भी जानेंगे की फेविकोल जिस ट्यूब में रखा रहता है उसमें क्यों नहीं चिपकता दोस्तों ये बात बड़ी सीधी सी है की फेविकोल को अगर हम हवा में रख दे तो वह कभी भी नहीं चिपकेगा क्योंकि जो फेविकोल है वो  हवा के संपर्क में आकर सॉलिड मिक्सचर बनती है जिसके कारण वह चिपक नहीं पता है !

फेविकोल जिस डिब्बी में रखा होता है उसमें क्यों नहीं चिपकता | GK In Hindi

फेविकोल जिस डिब्बी में रखा होता है उसमें क्यों नहीं चिपकता GK In Hindi General Knowledge
फेविकोल जिस डिब्बी में रखा होता है उसमें क्यों नहीं चिपकता GK In Hindi General Knowledge

अब बात ये आती है की जो फेविकोल ( Fevicol ) होता है वह रखे हुए उस ट्यूब में क्यों नहीं चिपक पाता साथियों जो फेविकोल का ट्यूब होता है पहले उसके बारे में भी थोड़ी आपको जानकारी देना चाहेंगे !

जिससे आपके सारे प्रश्नो का हल हम आसानी से दे सके जो फेविकोल का ट्यूब होगा उस ट्यूब को कंपनी द्वारा बहुत ही ध्यानपूर्वक तैयार किया जाता है ! और जो फेविकोल का ट्यूब होता है उसमे अत्यधिक चिकनाई होती है जिसके कारण फेविकोल हवा के संपर्क में नहीं आ पाता जिसके चलते फेविकोल कभी भी नहीं उस ट्यूब में चिपक नहीं पाता !

अगर Fevicol की डिब्बी को खोल दे तो क्या होगा

दोस्तों अगर हम यहाँ बात करे की अगर फेविकोल की डिब्बी को खोल कर रख दे तो क्या होगा ? अगर इस फेविकोल की डिब्बी को ( Fevicol Dibba ) पूरी तरह खोल दी जाये तो यह फेविकोल कम से कम 10 से 15 मिनट के अंदर ही सुख जायेगा, क्योंकि यह फेविकोल पूरी तरह हवा के संपर्क में आते ही सुख जाता है ! यहाँ अगर हम सीधी बात करे तो फेविकोल अगर हवा के संपर्क में होगा तो वह निश्चित रूप से नहीं चिपकेगा और जब उसे हवा नहीं मिलेगा तब वह आसानी से किसी भी स्थान पर चिपक जायेगा !

फेविकोल ( Fevicol ) कहा चिपकता है और कहा नहीं चिपकता General Knowledge

जैसा की साथियों आपको हम बता दे की ये फेविकोल के अंदर हाइड्रोजन पराक्साइड , ग्लीसरोल और डिस्टिल्ड वाटर नामक केमिकल होता है जो की किसी भी ठोस  वास्तु को चिपकाने के काम आता है और इस फेविकोल का उपयोग तरह-तरह की वस्तु चिपकाने के लिए कर सकते है !

इस फेविकोल की यहाँ एक और बात करे तो यह कभी भी गीली जगह पर कभी भी पकड़ नहीं करता क्योंकि इसमें जो हाइड्रोजन पराक्साइड , ग्लीसरोल और डिस्टिल्ड वाटर नामक केमिकल होते है वह किसी भी गीली सतह पर चिपकने के काबिल नहीं होते इसलिए ऐसे हम गीली वस्तुओ के लिए उपयोग में नहीं ले सकते है ! ये निम्न वस्तुओ पर आसानी से चिपकता है –

फेविकोल देखा जाए तो इन चीज़ो को चिपकाने के लिए बेहतर है |

  • मोती
  • कीमती पत्थर
  • कांच
  • धातु
  • लकड़ी
  • फेविकोल केसा होता है

दोस्तों ये जो फेविकोल ( Fevicol ) जो होता है वो एक साइनोएक्रिलेट प्रकार का एक गोंद है जो की ये आसानी से पिघलता नहीं है ! ये एथिल साइनोएक्रिलेट के मामले यह लगभग 1500 डिग्री सेल्सियस पर नरम हो जाता है ! मिथाइल साइनोएक्रिलेट के लिए पॉलिमर को गर्म करने से ठीक किए गए एमसीए का डीपोलाइमराइजेशन होता है, जिससे गैसीय उत्पाद बनते हैं जो फेफड़ों और आंखों के लिए अत्यधिक नुकसान दायक होते है !

GK In Hindi Today Question Interesting Facts About Fevicol General Knowledge जी हाँ दोस्तों ये जितने काम की चीज़ है उससे कई गुना ज्यादा ये हमारी आँखों के लिए हानिकारक भी है ! आपने देखा होगा की जब भी जम इस फेविकोल की डिब्बी को खोलते है तो इसमें से बहुत ही तेज प्रकार की स्मेल निकलती है जो की हमारे फेफड़ो और आँखों के लिए बहुत ज्यादा हानिकारक होती है ! इस तरह  सामान्य ज्ञान ( General Knowledge ) के अंतर्गत पूछे जाते है |

किस देश में शादी करने पर सरकारी नौकरी मिलती है | जानें GK In Hindi

अगर आँखों में फेवीक्विक चले जाएँ तो क्या होगा | जानें यहां

‘डेंगू’ बुखार किस मच्छर के काटने से फैलता है | जानें जानकारी GK In Hindi

About The Author

Leave a Comment